85 प्रतिशत किसानों को किया गया जस्ट इन टाइम एप से धान खरीदी का भुगतान

2
2515
dhan kharidi ka paisa mp

धान की सरकारी खरीद का भुगतान

खरीफ फसल की सरकारी खरीदी चल रही है, इसमें धान एक महत्वपूर्ण फसल है | देश में उत्पादन की बात करें तो यह 112.91 मिलियन टन है | किसानों के द्वारा अधिक उत्पादन से आमदनी की उम्मीद रहती है | प्रत्येक वर्ष धान फसल के लिए केंद्र सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य तय करती है | प्रति वर्ष की तरह ही इस वर्ष भी किसानों से धान की खरीदी न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की जा रही है | मध्य प्रदेश में धान का खरीदी के साथ किसानों को भुगतान भी किया जा रहा है |

कितनी मंडियों में की जा रही है धान की खरीदी ?

मध्य प्रदेश में धान का उत्पादन 30 जिलों में की जाती है इसलिए राज्य सरकार की तरफ से धान की खरीदी 30 जिलों में किया जा रहा है | खरीदी केन्द्रों की बात करें तो 30 जिलों के 955 खरीदी केन्द्रों पर धान की सरकारी खरीदी चल रही है |

धान की सरकारी खरीदी कब तक चलेगी ?

प्रदेश में धान की खरीदी अन्य राज्यों से पीछे शुरू हुई है | प्रदेश में 2 दिसम्बर से धान की खरीदी शुरू की गई है तथा यह 20 जनवरी तक जारी रहेगी | प्रदेश में धान की खरीदी न्यूनतम समर्थन मूल्य पर ही की जा रही है | इस वर्ष धान की न्यूनतम समर्थन मूल्य 1815 रूपये प्रति क्विंटल है तथा ए–ग्रेड धान की न्यूनतम समर्थन मूल्य 1835 रुपया प्रति क्विंटल है |

यह भी पढ़ें   मध्यप्रदेश बजट में किसानों के हिस्से क्या आया जानें एक नज़र में

अभी तक कितने किसानों ने धान विक्री के लिए आये हैं ?

मध्यप्रदेश के संचालक खाध, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोगता संरक्षण श्री अविनाश लवारिया ने बताया है कि ई – उपार्जन पोर्टल पर 5 लाख 43 हजार 062 धान उत्पादक किसानों द्वारा पंजीयन कराया गया | इनमें से 1 लाख 79 हजार 295 किसान उपार्जन केन्द्रों पर अपना 10.43 लाख मीट्रिक टन धान समर्थन मूल्य पर विक्रय के लिए पहुंचे |

धान खरीदी के भुगतान की स्थिति

किसानों की सबसे बड़ी शिकायत यह रहती है कि सरकार धान खरीदी करने के बाद उसका भुगतान करने में काफी देरी करती है लेकिन राज्य सरकार ने इस बार दावा किया है कि किसानों को धान खरीदी का भुगतान तुरंत कर दिया जा रहा है |

श्री अविनाश लवारिया ने कहा कि अभी तक 5 लाख 74 हजार 222 मीट्रिक टन धान की कुल समर्थन मूल्य राशि 1,042 करोड़ में से 85 प्रतिशत अर्थात 878 करोड़ का भुगतान किसानों के बैंक खातों में जस्ट–इन–टाइम एप के माध्यम से किया जा चूका है |

यह भी पढ़ें   बारिश एवं ओले से फसल नुकसान होने पर किसान यहाँ करें शिकायत

78 प्रतिशत धान पहुंची गोदामों तक

धान की खरीदी 2 दिसम्बर से लगातार जारी है | धान की खरीदी के बाद गोदामों तक पहुँचने की प्रक्रिया भी सतत जारी है | श्री अविनाश लवारिया ने बताया कि खरीदी केन्द्रों से कुल उपार्जित धान में से 8 लाख 16 हजार 517 मीट्रिक तन 78% धान गोदामों में पहुंचाई जा चुकी है |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here