मध्यप्रदेश में बनाई जाएगी 23 करोड़ रुपये में 78 गौ-शालाएं

0
1926
goshala mp govt

आवरा गायों के लिए गौ शालाओं का निर्माण

आवारा गायों के कारण किसानों का खेती करना मुश्किल हो गया है | कई जिलों में गाय किसानों की सभी तरह के फसल को खाकर नष्ट कर देती है | गायों के कारण किसानों को अपने खेतों प्रति एकड़ 10,000 रुपये से ज्यादा का केवल कांटेदार तार लगाकर खेती करना पड़ता है | इसके बाबजूद भी फसल की सुरक्षा निश्चित नहीं है | नई सरकार बनने के समय किसानों के मुद्दे को प्राथमिकता के तौर पर मध्य प्रदेश राज्य सरकार ने सभी पंचायत स्तर पर गौ शाला बनाने का निश्चय किया था | गौ–शाला बनाने का काम शरू भी हो चुका है | कुछ तहसीलों में गायों को गौ–शाला में रखा जा रहा है |

प्रदेश में बनेगीं 78 गौ-शालाएं

मध्य प्रदेश राज्य सरकार ने वन विभाग के माध्यम से 78 अन्य गौ–शाला बनाने जा रही है | इसमें से 50 गौ–शाला को वनोपज संघ के माध्यम से बनाया जायेगा | इसके लिए 30 लाख प्रति गौ–शाला के तहत 15 करोड़ रुपया खर्च किया जायेगा | शेष 28 गौ–शाललाओं के लिए 8 करोड़ 4 लाख रूपये का वित्त पोषण वन सुरक्षा समितियों कोदी जाने वाली लाभांश की राशि से किया गया है | गौवंश को सतत चारा आपूर्ति के उद्देश्य से संयुक्त वन प्रबंधन समितियों के सहयोग से चारा उत्पादन के लिए उपयुक्त वन क्षेत्रों का चयन किया जा रहा है |

यह भी पढ़ें   प्रधानमंत्री मोदी ने कहा नहीं किया जायेगा किसानों का कर्जा माफ़

अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक, संयुक्त वन प्रबंधन श्री चितरंजन त्यागी ने बताया कि अनाश्रित गायों के लिए गौ – शाला खोलना राज्य शासन की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में शामिल है | वन विभाग द्वारा गौ – शालाओं के लिए स्थल का चयन उस क्षेत्र में उपस्थित अनाश्रित गौ – वंश के आधार पर किया गया है | सौ गायों की क्षमता वाली प्रत्येक गौ–शाला के लिए 30 लाख रूपये प्रति इकाई की डॉ से प्राक्कलन तैयार किये गये हैं | इसमें गायों के लिए शेड, चारे के लिए गोदाम और जल की व्यवस्था की गई है | अनाश्रित गायों को आश्रय मिल जाने से उन्हें उपचार और आहार की सुविधा मिलेगी | साथी ही, सडक दुर्घटना में भी कमी आएगी |

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here