31 हजार किसानों को मिला फ्री में ट्रैक्टर एवं अन्य कृषि यंत्रों का लाभ

2394
tractor and agriculture free rental scheme

फ्री रेंटल स्कीम के तहत फ्री में ट्रैक्टर एवं अन्य कृषि यंत्रों का लाभ

कोरोना काल में किसानों के आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ा है | कोरोना लॉकडाउन के चलते किसानों को कृषि यंत्र किराये पर मिलने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा है | ऐसी परिस्थिति को देखते हुए राजस्थान सरकार ने किसानों के लिए फ्री रेंटल स्कीम लेकर आई थी | जिसके तहत किसान नि:शुल्क ट्रैक्टर एवं कृषि यंत्र किराये पर लेकर पाने कृषि कार्यों को पूर्ण कर सकें |

योजना के तहत सरकार ने टैफे कंपनी के साथ मिलकर योजना को सफल बनाया है | योजना के तहत कोई भी किसान जिनके पास 2.5 एकड़ से कम भूमि है लाभ प्राप्त कर सकते है | जिस किसान के पास अपना ट्रैक्टर है वह इस योजना से जुड़कर अपना ट्रैक्टर किराये पर दे सकते है, जिससे सभी को लाभ प्राप्त हो सके | इस वर्ष यह योजना 1 जून 2021 से 31 जुलाई 2021 तक था | इस बीच राज्य के किसानों ने इस योजना का लाभ उठाया है |

यह भी पढ़ें   15 जुलाई तक किसानों को दिए जाएंगे 7621 नए ट्यूबवैल कनेक्शन

योजना के तहत किसानों को मिला ट्रैक्टर एवं अन्य कृषि यंत्रों का फायदा

1 जून से 31 जुलाई तक राज्य के 31 हजार 326 किसानों ने योजना का लाभ प्राप्त किया है | इस अवधि में ट्रैक्टर तथा अन्य कृषि उपकरण से किसानों की 54 हजार 728 एकड़ जमीन पर 88 हजार 92 घंटे कार्य किया गया है | पिछले वर्ष इसी अवधि में 1 लाख घंटे तक ट्रैक्टर चला था | किसान https://jfarmservices.com लिंक के माध्यम से खुद को JFarm Services एप पर रजिस्टर कर आर्डर बुक कर सकते हैं |

किस जिले में कितने किसानों ने योजना का लाभ लिया

कृषि मंत्री श्री लालचंद कटारिया ने बताया कि इस स्कीम के तहत जयपुर में सर्वाधिक 3 हजार 680 किसानों ने लाभ प्राप्त किया है | इसी प्रकार

  • सीकर के 3 हजार 592 किसान,
  • अलवर के 2 हजार 755 किसान,
  • झुंझुन के 2 हजार 687 किसान,
  • नागौर के 2 हजार 406 किसान,
  • टोंक के 1 हाजर 711 किसान,
  • करौली के 1 हजार 672 किसान,
  • जोधपुर के 1 हजार 638 किसान,
  • अजमेर के 1 हजार 413 किसान,
  • बारां के 1 हजार 217 किसान एवं
  • भरतपुर के 1 हजार 152 किसानों ने योजना का लाभ प्राप्त किया है |
यह भी पढ़ें   इन 20 मंडियों में की जायेगी अरहर, मूंग एवं उड़द की खरीदी, किसान 31 अक्टूबर तक करें अपना पंजीयन

इस वर्ष किसानों की संख्या पिछले वर्ष के मुकाबले कहीं ज्यादा है | पिछले वर्ष इस योजना का लाभ 27 हजार किसानों ने प्राप्त किया था | इसके लिए 1 लाख घंटे से ज्यादा का नि:शुल्क सेवा किसानों को दी गई थी |

इस योजना का लाभ ट्रैक्टर  मालिक भी लाभ उठा सकते हैं

राज्य में ट्रैक्टर तथा अन्य कृषि यंत्र रखने वाले किसान इस योजना के तहत पैसा कमा सकते हैं | इसके लिए अपना ट्रैक्टर को पंजीयन कराकर आर्डर प्राप्त कर सकते हैं | इस योजना के तहत फर्गुसन और आयशर ट्रैक्टर मालिक https://jfarmservices.com लिंक के माध्यम से पंजीयन करा सकते हैं |

पिछला लेखघर बैठे गेहूं, चना, मक्का एवं अन्य रबी फसलों के बीज 50 प्रतिशत की सब्सिडी पर लेने के लिए आवेदन करें
अगला लेखसहकारी समितियों से किसानों को खरीफ फसलों के लिए दिया जा रहा है ऋण, जैविक खाद और बीज

LEAVE A REPLY

अपना कमेंट लिखें
आपका नाम लिखें.