किसानों को 3000 रुपये दिए जाने वाली पेंशन योजना लागू, जुड़ने के लिए इस तरह करें आवेदन

0
11510
views
PM Narendra modi inaugurates Kisan Mandhan Yojna

किसान पेंशन योजना (PMKMY) हेतु आवेदन

सरकारी नौकरी की तरह ही अब किसानों को पेंशन की शुरुआत कर दी गई है | इसके तहत किसानों को 60 वर्ष के बाद प्रति माह 3,000 रुपया दिया जायेगा | यह योजना पूरी तरह से केंद्र सरकार के द्वारा चलाई जा रही है | किसानों की वर्षों पुरानी मांग थी की सरकारी नौकरी की तरह ही किसानों को भी बुढ़ापे का सहारा चाहिए | इसी के तहत देश के सभी राज्य तथा केंद्र शासित राज्यों के लिए किसान मानधन योजना की शुरुआत कर दी गई है | झारखंड की राजधानी रांची में इस योजना की शुभारम्भ प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने किया है | उन्होंने बताया है की प्रधानमंत्री मानधन योजना से देश के 5 करोड़ लघु और सीमांत किसानों का जीवन सुरक्षित होगा |

योजना को चलाने तथा पेंशन देने की व्यवस्था भारतीय जीवन बीमा निगम को दिया गया है | योजना के तहत कुछ नियम और शर्ते है जो सभी किसनों पर एक समान लागु होते हैं इसलिए किसान समाधान इस योजना की पूर्ण जानकारी लेकर आया है |

पेंशन योजना के अंतर्गत कौन–कौन से किसान आयेंगे ?

किसान मानधन योजना देश के सभी राज्य तथा केंद्र शासित राज्यों में लागु कर दिया गया है | इस योजना के तहत 2 हेक्टेयर तक भूमि वाले किसानों को शामिल किया गया है | इसके लिए किसान की उम्र 18 से 40 वर्ष तक होना चाहिए |

यह भी पढ़ें   किसानों के बैंक खातों में 30 सितम्बर तक जमा किया जाएगा खरीफ फसली ऋण

पेंशन स्कीम से जुड़ने के लिए फीस तथा प्रीमियम कितनी है ?

यह स्कीम बिल्कुल फ्री है किसान के पंजीयन करने के लिए किसी भी तरह का कोई शुल्क नहीं लिया जाता है | इसके अलावा पीएम किसान मानधन योजना का पंजीयन के लिए कामन सर्विस पर लगने वाला 30 रु.की फीस भी सरकार हो देगी |

मानधन योजना में प्रीमियम के तौर पर सभी आयु उम्र के व्यक्ति पर अलग – अलग रहेगी | स्कीम के तहत 55 से 200 रुपये तक का प्रीमियम किसान को प्रतिमाह देना होगा | 18 वर्ष के आयु वर्ग के किसान को 55 रुपया प्रति माह , 29 वर्ष उम्र के व्यक्ति को 100 रुपया तथा 40 वर्ष उम्र के व्यक्ति पर 200 रुपया की प्रीमियम देना होगा | इस तरह अलग – अलग आयु वर्ग के लिए प्रीमियम भी अलग –अलग रहेगा |

पेंशन योजना पंजीकरण हेतु आवश्यक दस्तावेज ?

 18 से 40 वर्ष के कोई भी महिला या पुरुष या दोनों (पति – पत्नी) अपने पास के कामन सर्विस सेंटर पर आधार कार्ड और बैंक अकाउंट या जनधन खाते की पास बुक लेकर जाना होगा | सेंटर पर बैठा अधिकारी आप की उम्र के हिसाब से योगदान की रकम बताएगा |

यह भी पढ़ें   उत्तरप्रदेश बजट: किसानों को क्या मिला देखें एक नज़र में

पहला योगदान आवेदक को नगद करना होगा | इसके बाद आपका यूनिक किसान पेंशन अकाउंट और आपका किसान कार्ड प्रिंट कर दिया जाएगा | योजना की शुरुआत से पहले ही 13.7 लाख किसान जुड़ चुके हैं |

अगर किसान की मृत्यु पहले हो जाती है तो क्या होगा ?

पति या पत्नी में से किसी एक की मृत्यु हो जाने पर दोनों में से कोई भी इसे 60 वर्ष तक जारी रख सकता है | इस योजना के तहत 60 वर्ष के बाद उस व्यक्ति को 3,000 रुपया प्रति माह मिलेगा |

योजना को बीच में छोड़ने पर क्या होगा ?

अगर किसान किसी कारण इस योजना को छोड़ना चाहता है तो उसे जमा पूंजी का ब्याज जोड़कर एक बार में ही ऐड कर दिया जायेगा | इसका मतलब यह हुआ की किसान कभी भी इस योजना को बीच में छोड़ सकता है |

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना हेतु आवेदन करने के लिए क्लिक करें

किसान समाधान के YouTube चेनल की सदस्यता लें (Subscribe)करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here