बेहतर कीमतों और कर्ज से पूरी आजादी की मांग को लेकर दिल्ली पंहुचे 180 किसान संगठन

0
601
views

बेहतर कीमतों और कर्ज से पूरी आजादी की मांग को लेकर दिल्ली पंहुचे 180 किसान संगठन

दिल्ली में 20 नवंबर से अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति (एआईकेएससीसी) के तहत दो दिनों के प्रदर्शन में भाग लेंगे. वे अपने उत्पाद के लिए बेहतर कीमतों और कर्ज से पूरी आजादी की मांग करेंगे ल

प्रदर्शन में करीब 180 किसान संगठनों के सदस्यों के भाग लेने की उम्मीद है. अखिल भारतीय किसान सभा के अध्यक्ष अशोक धावले ने कहा, हमारी मुख्य मांग सही कीमत आंकलन के साथ वैध हक के तौर पर पूर्ण लाभकारी कीमतें और उत्पादन लागत पर कम से कम 50 फीसदी का लाभ अनुपात पाना है I उन्होंने कहा, हम फौरन व्यापक कर्ज माफी सहित कर्ज से आजादी की मांग करेंगे. उन्होंने कहा कि किसानों की कर्ज की समस्या के हल के लिए सांविधिक संस्थागत तंत्र स्थापित किए जाने की भी मांग की जाएगी I  धावले ने कहा, यहां तक कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान वादा किया था कि यदि वह चुने जाते हैं तो किसानों को अपनी फसलों के लिए अच्छी कीमतें मिलेंगी और स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू किया जायेगा I

यह भी पढ़ें   जैविक खेती करने वाले किसानों को मिला जैविक बाजार

एआईकेएससीसी के मुताबिक वर्तमान में लागत और आमदनी के बीच असंतुलन की वजह ईंधन, कीटनाशक, उर्वरक और यहां तक कि पानी सहित लागत की कीमतों में लगातार वृद्धि का होना है. इन चीजों का किसान सामना कर रहे हैं l

अखिल भारतीय किसान सभा के नेता ने कहा कि कीमतों में घोर अन्याय किसानों को कर्ज में धकेल रहा है, वे आत्महत्या के लिए मजबूर हो रहे और देश भर में बार-बार प्रदर्शन हो रहे हैं. किसानों की दुदर्शा के हल के लिए हम बड़ी तादाद में 20 नवंबर को दिल्ली में किसान मुक्ति संसद में एकत्र हो रहे हैं.

एआईकेएससीसी अपने प्रदर्शन के दौरान किसान मुक्ति संसद का आयोजन होगा एवं 20 दो मांगों के साथ एक मसौदा विधेयक भी पेश किया जाएगा और उस पर किसान संसद चर्चा कर उसे पारित करेगी.

यह भी पढ़ें: जानें क्या थी स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें

यह भी पढ़ें: न्यूनतम समर्थन मूल्य किस आधार पर निर्धारित किया जाता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here