पशु – चालित निंदाई यंत्र

0
591
views

पशु – चालित निंदाई यंत्र

किसान भाई आप के पास बैल है तो आप इस बैल से केवल जुताई ही नहीं बल्कि आप खरपतवार नियंत्रण में लासकते है | आप की फसल क्यारियों में रोपा हुआ है तो आप इसे उपयोग में ला सकते है | इसी जानकारी को किसान समाधान ने लेकर आया है |

जब फसल क्यारियों में 45 – 60 से.मी. की दूरी पर बोई जाती है तब पशु – चालित निंदाई यंत्रों का उपयोग किया जाता है | मुख्य पशु – चालित निंदाई यंत्र एम.पी. डोरा, बारडोली हो, अकोला हो, त्रिफाली आदि यंत्र पशु – शक्ति से खींचकर चलाये जाने वाले निंदाई यंत्र हैं | कृषकों के द्वारा पशु – चालित एक लाइन वाले हो विभिन्न प्रदेशों में अधिकांशत: उपयोग में लाये जाते हैं |

सीधी ब्लेड वाले एवं हल्की गोलाकार ब्लेड का उपयोग साधारनतया किया जाता है | फसल की क्यारियों की दूरी के अनुसार ब्लेड की चौडाई चुन ली जाती है | बहु – क्यारियों के निंदाई यंत्रों का उपयोग भी गुजरात एवं महारष्ट्र में किया जाता है | ताकि निंदाई का कार्य समय पर पूरा किया जा सके | पशु – चालित टूलबार एवं मलती परपज टूल फ्रेम (पहियेदार) का उपयोग भी अधिक चौडाई में बोई गयी फसलों में निंदाई कार्य के लिए किया जाता है | भू – क्यारियों वाली टूल फ्रेम में स्टीयरेबल टूल बार का उपयोग किया जाता है |

यह भी पढ़ें   अभी देखें : वैज्ञानिकों की बात किसानों के साथ-लाइव

पशु – चालित निंदाई यंत्रों में स्थिर टाइन में स्वीप , चौड़ी समतल स्वीप (डगफूट – स्वीप) एवं शांवेल आकार की ब्लेड लगायी जाती है | चौड़ी त्रिकोण आकार की ब्लेड हो का भी उपयोग पशु – चालित निंदाई यंत्रों में किया जाता है | त्रिकोण आकार वाली ब्लेड वाले पशु चालित हो मिटटी को अधिक पलट देते हैं | सीधी ब्लेड वाले बखर का उपयोग भी निंदाई कार्य में अधिक सक्षम होता है |

यह भी पढ़ें:  बुवाई एवं खाद डालने के हेतु उन्नत कृषि यन्त्र

यह भी पढ़ें: भूमि की तयारी के लिए उपयुक्त कृषि यन्त्र

यह भी पढ़ें: पौध संरक्षण उपकरण

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here