back to top
28.6 C
Bhopal
रविवार, जून 23, 2024
होमपशुपालनडेयरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट -पांच दुधारू पशु (गाय/ भैंस) हेतु

डेयरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट -पांच दुधारू पशु (गाय/ भैंस) हेतु

डेयरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट -पांच दुधारू पशु (गाय/ भैंस) हेतु

डेयरी  प्रोजेक्ट रिपोर्ट जो किसान भाई जो डेयरी खोलना चाहते हैं उनके लिए यहाँ पांच दुधारू पशुओं के लिए प्रोजेक्ट दिया गया है इसी प्रकार किसान भाई अधिक पशुओं के लिए भी प्रोजेक्ट बना सकते हैं यदि किसान भाई और भी अधिक जानकारी जोड़ सकते हैं जैसे उन्नत मशीनों का प्रयोग करने पर उन पर होने वाला खर्च इत्यादि I इस तरह किसान भाई गणना कर सकते हैं एवं डेयरी मैं होने वाले लाभ हानि भी जान सकते हैंI

यह रिपोर्ट डेयरी फार्मिंग में 5 दुधारू पशु पर आधारित है। इस रिपोर्ट में भारत में 5 दुधारू पशु पर आधारित  है

आधारभूत मान्यताएँ  

उन्नत नस्ल की प्रत्येक दुधारू मवेशी, बियान के पशचात 300 दिनों की अवधि में 3500 लीटर दूध देगी | प्रत्येक मवेशी 65 दिन की बिशुखी अवधि में रहेगी | प्रथम या दिवतिये बियान की मवेशी का ही क्रय किया जायेगा |

तकनीकी मापदण्ड :

एक इकाई में दुधारू जानवरों की संख्या                           05

प्रत्येक मवेशी का प्रतिदिन औसत दूध उत्पादन                      12 ली.

एक मवेशी और एक बच्चा के लिए जगह की आवश्यकता       60 वर्ग फीट

प्रति मवेशी प्रतिदिन चारे की आवश्यकता

दूध देने की अवधि में – हरा चारा                                       20 कि.ग्रा.

सुखा चारा                                                                       5 कि.ग्रा.

संतुलित पशु आहार                                                           5 कि.ग्रा.

विसुखी अवधि में                           

हरा चारा                                                                    15 कि.ग्रा.

सुखा चारा                                                                          7 कि.ग्रा.

संतुलित पशु आहार                                                           1 कि.ग्रा.

वित्तीय मापदण्ड :

एक उन्नत नस्ल की मवेशी की कीमत                                    रु. 50,000

प्रति लीटर दूध की विक्री का मूल्य                                        रु. 32

पशुपालन निर्माण पर लागत व्यय प्रति वर्गफीट                      रु. 250

संतुलित पशु आहार का कीमत प्रति किलोग्राम                        रु. 20

हरा चारा की कीमत प्रति कि.ग्रा.                                          रु. 2

सुखा – चारा की कीमत प्रति कि.ग्रा.                                     रु. 5

रख – रखाव एवं पशु चिकितसा पर व्यय (प्रतिवर्ष) प्रति इकाई     रु. 5000

प्रति गनी बैग बिक्री से आय                                                   रु.20

योजना की रूप रेखा प्रति इकाई

  • पूंजीगत खर्च :

1.दुधारू जानवर – 05प्रति दुधारू मवेशी रु. 50,000 /- दर से (प्रति व्यान 35,00 लीटर दूध देने की क्षमता) (5 × 50,000)2,50,000
2.पशु बीमा (ट्रांजिट बीमा सहित)क्रय मूल्य का 6 % की दर से रु. 2,50,000 × 6%15,000
3.पशुशाला निर्माण300 वर्गफीट , प्रति वर्गफीट रु. 25075,000
4.परिवहनरु. 2500 /- प्रति मवेशी × 512,500
कुल राशि3,52,500
यह भी पढ़ें   गर्मी में पशुओं को लू से बचाने के लिए इस तरह करें देखभाल

 

सामान्य जाति                            अन.जाती/ अनु.जनजाति

एक इकाई की स्थापना पर व्यय               रु. 3,52,500                           रु. 3,52,500

योजना पर कुल लागत व्यय                    रु. 3,17,250 (90%)                 रु. 3,34,875 (95%)

बैंक द्वारा स्वीकृत ऋण                           रु.35,250  (10%)                    रु. 17,625 (5%)

लाभुक अंशदान                                    रु. 1,76,250  (50%)                 रु.2,64,375 (75%)

राज्य सरकार द्वारा अनुदान                     रु. 1,41,000 (40%)                   रु. 70,500  (20%)

अनुदान राशि उपलब्ध कराने के पशचात बैंक ऋण

  • एक वर्ष में चारा एवं दाना की आवश्यकता एवं मूल्य :

चारा देने की आवश्यकता पशुओं की वयस्क इकाई के आधार पर आँका गया है जो इस प्रकार है :

क्र.पशु का विवरणसंख्यावयस्क इकाई
1उन्नत नस्ल की मवेशी55
2बाछा, बाछियाँ52.5
कुल107.5

 

  • चारा दाना का विवरण :

क्र.मात्रादरमूल्य (रु. में)
1.(क) सुखा चारा 5 कि.ग्रा.प्रति वयस्क इकाई प्रतिदिन की दर से दूध देने की अवधि के लिए (5 × 7.5 × 300 ) = 112.5 किवंटल

 

(ख) सुखा चारा विसुखी अवधि के लिए 7 कि.ग्रा. प्रति वयस्क इकाई प्रतिदिन की दर से (7 × 7.5 × 65) = 34.125किवंटल

(क +ख) = 146.625 किवंटल

500 प्रति किवंटल73,313
2.(क) दूध देने की अवधि में

हरा चारा 20 कि.ग्रा. प्रति वयस्क इकाई प्रतिदिन की दर से एक वर्ष के लिए (20 × 7.5 × 300) = 180 किवंटल

विसुखी अवधि में

(15 × 7.5 × 65) = 73.125किवंटल

(क+ख) = 450 + 73.125  = 523.125 किवंटल

200 प्रति किवंटल1,04,625
3.संतुलित पशु आहार

दूध देने की अवधि में प्रति पशु 5 कि.ग्रा. प्रति दिन प्रति वयस्क इकाई की दर से 300 दिनों के लिए (5 × 5 × 300) = 7,500 कि.ग्रा.

विसुखी अवधि में 65 दिनों के लिए 1 कि.ग्रा. प्रति दिन के दर से (5 × 1 × 65) = 325 कि.ग्रा.

प्रति बछड़ा 0.5 कि.ग्रा, प्रतिदिन की दर से पूरे वर्ष (5 × 0.5 × 365) = 912.50 कि.ग्रा.

कुल संतुलित पशु आहार

(क+ख+ग) = 87.4 किवंटल

2000 प्रति किवंटल1,74,800
कुल योग3,52,738

 

  • मूल्य ह्रास एवं सूद :

दुधारू पशुओं पर 16% की दर से (2,50,000 × 16%)40,000
बैंक ऋण पर सूद 12 प्रतिशत की दर से (सामन्य जाति 1,41,000×12%)

(अनु.जाति / जनजाति 70,500 ×12%)

16,920

8,460

कुल योग सामान्य जाती

कुल योग (अनु.जाति / जनजाति)

56,920

48,460

 

  • व्यय एवं आय

व्यय

चारा एवं दाना पर व्यय3,52,738
पशु बीमा पर खर्च (6%) प्रतिवर्ष15,000
रख – रखाव एवं पशु चिकित्सा पर खर्च प्रति वर्ष5,000
मजदुर (एक मजदुर रु.200) प्रति दिन की दर से पूरे वर्ष के लिए (2 × 200 ×365 )73,000
कुल योग4,45,738

आय

1.कुल उत्पादित दूध 17,500 ली.का कीमत रु. 32 /- प्रति लीटर की दर से 32 × 17,500 ली.5,60,000
2.3 बाछी की बिक्री रु. 25,000 / – प्रति बछि की दर से75,000
3.2 बाछे की बिक्री रु. 5000 / – प्रति बाछा की दर से10,000
4. एक वर्ष में प्रति वयस्क गाय द्वारा उत्पादित गोबर से वर्मी कम्पोस्ट का उत्पादन 18 किवंटल प्रति मवेशी प्रति वर्ष रु. 800 प्रति किवंटल की दर से बिक्री करने पर (18 × 5 ×  800)72,000
5.गोबर गैस प्लांट से उत्पादित गैस द्वारा इंधन की बचत रु. 600 प्रति के दर से (600 × 12)7,200
 

6.

 

गनी बैग की बिक्री (200 × 20)

4,000

 

कुल योग7,28,200

 

  • लाभ                          = आय – व्यय = रु. 7,28,200  – 4,45,738  = रु. 2, 82, 462
  • विशुद्ध लाभ                 = लाभ – मूल्य ह्रास एवं सूद
  • सामान्य जाती              =  रु. 2,82,462 –  56,920  = रु. 2,25,542
  • अनु.जाती / जनजाति      = रु. 2,82,462  –  48,460  = रु. 2,34,002

यह भी पढ़ें: 

डेयरी योजना या बैंक ऋण हेतु प्रोजेक्ट रिपोर्ट

यदि पशुपालन या बागवानी के लिए बैंक से ऋण चाहिए तो क्या करें?

अच्छी नस्ल के दुधारू पशु किसान भाई कहाँ से खरीद सकते हैं ?

 दुधारू पशुओं हेतु टीकाकरण कब करायें

38 टिप्पणी

    • सर बिहार में अभी आवेदन नहीं हो रहे हैं जब आवेदन होते हों उस समय वर्ष के अनुसार प्रोजेक्ट दिया जाता है | जब आवेदन होने तब जानकारी दी जाएगी | आप अपने यहाँ प्रखंड या जिले के पशु चिकित्सालय/ पशुपालन विभाग में सम्पर्क करें | https://state.bihar.gov.in/ahd/CitizenHome.html दी गई लिंक पर देखें |

    • सर प्रोजेक्ट में डेयरी खोने में आने वाली लागत और किस जगह पर खोल रहे हैं, एक वर्ष में कितना खर्च आएगा यह जानकारी दीजिये | आप अपने जिले के पशुपालन विभाग में सम्पर्क करें | सरकार की योजना के अनुसार ही प्रोजेक्ट का निर्माण करें |

    • किसान क्रेडिट कार्ड पर भी आप लोन ले सकते हैं |
      आप प्रोजेक्ट बनायें, अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय या जिला पशु पालन विभाग से सम्पर्क करें | यदि प्रोजेक्ट अप्रूव हो जाता है तब बैंक से लोन हेतु आवेदन करें |

    • प्रोजेक्ट बनायें, अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय या जिला पशुपालन विभाग से समपर्क कर आवेदन करें, प्रोजेक्ट अप्रूव होने पर बैंक से लोन हेतु आवेदन करें |

    • प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करें, अपने यहाँ के पशु चिकित्सालय या जिला पशुपालन से यदि अप्रूव हो जाता है तो बैंक से लोन हेतु आवेदन करें |

  1. सर मैं 5 गाय लॉकर डेरी फार्म चालू करना चाहता हूं इसके लिए मुझे कुछ पैसों की कमी हो रही है इसलिए मुझे आप सलाह देने की मैं पांच गाय खरीद कर इस काम को कैसे चालू करूं और इसके लिए मुझे क्या करना होगा

  2. सर हमें लोन लेना क्या क्या करना होगा
    में रतलाम जिले के बोदिना गाव से हूं (मध्य प्रदेश )
    सर मेरे पास ८ भेस और ४ गाय है मुझे १० लाक का लोन लेना है क्या करना होगा
    ९७५५९९८१८४

  3. गोबर गैस प्लांट से प्लान्ट से उत्पादित गैस द्वारा इंधन की बचत रु. 600 प्रति के दर से (600 × 12) 72,000
    नही होता बल्कि 600×12= 7,200 रुपये होता है इसलिए कुल लाभांश में से 64,800 घट जाएंगे

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
यहाँ आपका नाम लिखें

ताजा खबर