डेयरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट -पांच दुधारू पशु (गाय/ भैंस) हेतु

17
41339
views

डेयरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट -पांच दुधारू पशु (गाय/ भैंस) हेतु

डेयरी  प्रोजेक्ट रिपोर्ट जो किसान भाई जो डेयरी खोलना चाहते हैं उनके लिए यहाँ पांच दुधारू पशुओं के लिए प्रोजेक्ट दिया गया है इसी प्रकार किसान भाई अधिक पशुओं के लिए भी प्रोजेक्ट बना सकते हैं यदि किसान भाई और भी अधिक जानकारी जोड़ सकते हैं जैसे उन्नत मशीनों का प्रयोग करने पर उन पर होने वाला खर्च इत्यादि I इस तरह किसान भाई गणना कर सकते हैं एवं डेयरी मैं होने वाले लाभ हानि भी जान सकते हैंI

यह रिपोर्ट डेयरी फार्मिंग में 5 दुधारू पशु पर आधारित है। इस रिपोर्ट में भारत में 5 दुधारू पशु पर आधारित  है

आधारभूत मान्यताएँ  

उन्नत नस्ल की प्रत्येक दुधारू मवेशी, बियान के पशचात 300 दिनों की अवधि में 3500 लीटर दूध देगी | प्रत्येक मवेशी 65 दिन की बिशुखी अवधि में रहेगी | प्रथम या दिवतिये बियान की मवेशी का ही क्रय किया जायेगा |

तकनीकी मापदण्ड :

एक इकाई में दुधारू जानवरों की संख्या                           05

प्रत्येक मवेशी का प्रतिदिन औसत दूध उत्पादन                      12 ली.

एक मवेशी और एक बच्चा के लिए जगह की आवश्यकता       60 वर्ग फीट

प्रति मवेशी प्रतिदिन चारे की आवश्यकता

दूध देने की अवधि में – हरा चारा                                       20 कि.ग्रा.

सुखा चारा                                                                       5 कि.ग्रा.

संतुलित पशु आहार                                                           5 कि.ग्रा.

विसुखी अवधि में                           

हरा चारा                                                                    15 कि.ग्रा.

सुखा चारा                                                                          7 कि.ग्रा.

संतुलित पशु आहार                                                           1 कि.ग्रा.

वित्तीय मापदण्ड :

एक उन्नत नस्ल की मवेशी की कीमत                                    रु. 50,000

प्रति लीटर दूध की विक्री का मूल्य                                        रु. 32

पशुपालन निर्माण पर लागत व्यय प्रति वर्गफीट                      रु. 250

संतुलित पशु आहार का कीमत प्रति किलोग्राम                        रु. 20

हरा चारा की कीमत प्रति कि.ग्रा.                                          रु. 2

सुखा – चारा की कीमत प्रति कि.ग्रा.                                     रु. 5

रख – रखाव एवं पशु चिकितसा पर व्यय (प्रतिवर्ष) प्रति इकाई     रु. 5000

प्रति गनी बैग बिक्री से आय                                                   रु.20

योजना की रूप रेखा प्रति इकाई

  • पूंजीगत खर्च :

1. दुधारू जानवर – 05 प्रति दुधारू मवेशी रु. 50,000 /- दर से (प्रति व्यान 35,00 लीटर दूध देने की क्षमता) (5 × 50,000) 2,50,000
2. पशु बीमा (ट्रांजिट बीमा सहित) क्रय मूल्य का 6 % की दर से रु. 2,50,000 × 6% 15,000
3. पशुशाला निर्माण 300 वर्गफीट , प्रति वर्गफीट रु. 250 75,000
4. परिवहन रु. 2500 /- प्रति मवेशी × 5 12,500
कुल राशि 3,52,500
यह भी पढ़ें   ब्रायलर मुर्गीपालन में ध्यान देने योग्य बातें

 

सामान्य जाति                            अन.जाती/ अनु.जनजाति

एक इकाई की स्थापना पर व्यय               रु. 3,52,500                           रु. 3,52,500

योजना पर कुल लागत व्यय                    रु. 3,17,250 (90%)                 रु. 3,34,875 (95%)

बैंक द्वारा स्वीकृत ऋण                           रु.35,250  (10%)                    रु. 17,625 (5%)

लाभुक अंशदान                                    रु. 1,76,250  (50%)                 रु.2,64,375 (75%)

राज्य सरकार द्वारा अनुदान                     रु. 1,41,000 (40%)                   रु. 70,500  (20%)

अनुदान राशि उपलब्ध कराने के पशचात बैंक ऋण

  • एक वर्ष में चारा एवं दाना की आवश्यकता एवं मूल्य :

चारा देने की आवश्यकता पशुओं की वयस्क इकाई के आधार पर आँका गया है जो इस प्रकार है :

क्र. पशु का विवरण संख्या वयस्क इकाई
1 उन्नत नस्ल की मवेशी 5 5
2 बाछा, बाछियाँ 5 2.5
कुल 10 7.5

 

  • चारा दाना का विवरण :

क्र. मात्रा दर मूल्य (रु. में)
1. (क) सुखा चारा 5 कि.ग्रा.प्रति वयस्क इकाई प्रतिदिन की दर से दूध देने की अवधि के लिए (5 × 7.5 × 300 ) = 112.5 किवंटल

 

(ख) सुखा चारा विसुखी अवधि के लिए 7 कि.ग्रा. प्रति वयस्क इकाई प्रतिदिन की दर से (7 × 7.5 × 65) = 34.125किवंटल

(क +ख) = 146.625 किवंटल

500 प्रति किवंटल 73,313
2. (क) दूध देने की अवधि में

हरा चारा 20 कि.ग्रा. प्रति वयस्क इकाई प्रतिदिन की दर से एक वर्ष के लिए (20 × 7.5 × 300) = 180 किवंटल

विसुखी अवधि में

(15 × 7.5 × 65) = 73.125किवंटल

(क+ख) = 450 + 73.125  = 523.125 किवंटल

200 प्रति किवंटल 1,04,625
3. संतुलित पशु आहार

दूध देने की अवधि में प्रति पशु 5 कि.ग्रा. प्रति दिन प्रति वयस्क इकाई की दर से 300 दिनों के लिए (5 × 5 × 300) = 7,500 कि.ग्रा.

विसुखी अवधि में 65 दिनों के लिए 1 कि.ग्रा. प्रति दिन के दर से (5 × 1 × 65) = 325 कि.ग्रा.

प्रति बछड़ा 0.5 कि.ग्रा, प्रतिदिन की दर से पूरे वर्ष (5 × 0.5 × 365) = 912.50 कि.ग्रा.

कुल संतुलित पशु आहार

(क+ख+ग) = 87.4 किवंटल

2000 प्रति किवंटल 1,74,800
कुल योग 3,52,738

 

  • मूल्य ह्रास एवं सूद :

दुधारू पशुओं पर 16% की दर से (2,50,000 × 16%) 40,000
बैंक ऋण पर सूद 12 प्रतिशत की दर से (सामन्य जाति 1,41,000×12%)

(अनु.जाति / जनजाति 70,500 ×12%)

16,920

8,460

कुल योग सामान्य जाती

कुल योग (अनु.जाति / जनजाति)

56,920

48,460

 

  • व्यय एवं आय

व्यय

चारा एवं दाना पर व्यय 3,52,738
पशु बीमा पर खर्च (6%) प्रतिवर्ष 15,000
रख – रखाव एवं पशु चिकित्सा पर खर्च प्रति वर्ष 5,000
मजदुर (एक मजदुर रु.200) प्रति दिन की दर से पूरे वर्ष के लिए (2 × 200 ×365 ) 73,000
कुल योग 4,45,738

आय

1. कुल उत्पादित दूध 17,500 ली.का कीमत रु. 32 /- प्रति लीटर की दर से 32 × 17,500 ली. 5,60,000
2. 3 बाछी की बिक्री रु. 25,000 / – प्रति बछि की दर से 75,000
3. 2 बाछे की बिक्री रु. 5000 / – प्रति बाछा की दर से 10,000
4.  एक वर्ष में प्रति वयस्क गाय द्वारा उत्पादित गोबर से वर्मी कम्पोस्ट का उत्पादन 18 किवंटल प्रति मवेशी प्रति वर्ष रु. 800 प्रति किवंटल की दर से बिक्री करने पर (18 × 5 ×  800) 72,000
5. गोबर गैस प्लांट से उत्पादित गैस द्वारा इंधन की बचत रु. 600 प्रति के दर से (600 × 12) 7,200
 

6.

 

गनी बैग की बिक्री (200 × 20)

4,000

 

कुल योग 7,28,200

 

  • लाभ                          = आय – व्यय = रु. 7,28,200  – 4,45,738  = रु. 2, 82, 462
  • विशुद्ध लाभ                 = लाभ – मूल्य ह्रास एवं सूद
  • सामान्य जाती              =  रु. 2,82,462 –  56,920  = रु. 2,25,542
  • अनु.जाती / जनजाति      = रु. 2,82,462  –  48,460  = रु. 2,34,002

यह भी पढ़ें: 

डेयरी योजना या बैंक ऋण हेतु प्रोजेक्ट रिपोर्ट

यदि पशुपालन या बागवानी के लिए बैंक से ऋण चाहिए तो क्या करें?

अच्छी नस्ल के दुधारू पशु किसान भाई कहाँ से खरीद सकते हैं ?

 दुधारू पशुओं हेतु टीकाकरण कब करायें

17 COMMENTS

    • सर आप अपने ब्लाक के पशुपालन विभाग के सह संचालक से संपर्क करें l नाबार्ड के द्वारा यह योजना सम्पूर्ण भारत मैं हैं

  1. गोबर गैस प्लांट से प्लान्ट से उत्पादित गैस द्वारा इंधन की बचत रु. 600 प्रति के दर से (600 × 12) 72,000
    नही होता बल्कि 600×12= 7,200 रुपये होता है इसलिए कुल लाभांश में से 64,800 घट जाएंगे

  2. Yar tum chutiyA matna banao bhaio ko , jo likha h fake h, lon kitna milega kitna party ko lagana h. Kya prakirya hogi kitne din m milega kya kagaj lagange kuchh nahi likha .. Ulta sidha likhkar labh dikha raha h jbki hakikat m essa kuchh nahi h.
    Main chalenge karta hu itna labh karke dikha De Ek byat Sal m.

  3. ye jo rajeev sir ne likha hai lagta hai kuch bina soche samjhe likh diya hai aap job kahe rahe the ki 1 beyat me itna labh kaise milega
    to hum aapko bata de ki isse bhi jada labh hota hai ager bairy ko samjh kar kiya jaye

  4. सर हमें लोन लेना क्या क्या करना होगा
    में रतलाम जिले के बोदिना गाव से हूं (मध्य प्रदेश )
    सर मेरे पास ८ भेस और ४ गाय है मुझे १० लाक का लोन लेना है क्या करना होगा
    ९७५५९९८१८४

  5. Dear sir,

    muje -2 dhudharu cattle k liye loan chahiye uske liye kya krna pdega mene bank se KCC bhi le rkhi h or mera KCC account SBI bank se h or yh bank cattle pr loan nhi deta h eske liye muje kya krna pdega plz give me any suggestion….

    Regards,
    kailash chand gurjar
    8107908889

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here